Mann Ki Dori Hindi Lyrics – Gunjan Saxena

Mann Ki Dori Hindi Lyrics 


Gunjan Saxena

Song – Mann Ki Dori
Composed & Produced – Amit Trivedi
Lyrics – Kausar Munir
Singer – Armaan Malik
Programmed & Arranged By – Amit Trivedi & Raja Rasaily
Sound Engineer, A T Studios – Urmila Sutar
Assisted By – Firoz Shaikh
Mixed & Mastered By – Shadab Rayeen, New Edge – Mumbai
Assisted By – Abhishek Sortey & Dhananjay Khapekar
Executive Producer, A T Studios – Krutee Trivedi
Manager, A T Studios – Aditya Hanchinal
Live Musicians: – Acoustic & Electric Guitars – Nyzel Dlima


Mann Ki Dori Hindi Lyrics

Mann Ki Dori Hindi Lyrics

जिस पल से देखा है तुझको
मन ये पगला गया रे
पीचे पीचे देखो
तेरे हद्द से निकल गया रे

ओ ओ
जिस पल से देखा है तुझको
मन ये पगला गया रे
पीचे पीचे देखो
तेरे हद्द से निकल गया रे

तू जहान वहां लेके जाए
राहे मोरे
की तुझ संग बाँधी
की तुझ संग बाँधी
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी

की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
रे रे रे
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी

हो
दांतों से काटे
हाथो से खीचें
डोर ये तेरी मेरी
टोडे ना टूटे

हो धुप के दिन हो
सर्दी की राते
डोर ये तेरी मेरी
छोड़े ना छूटे

तू जहाँ वहां लेके जाए
रे मोरे
की तुझ संग बाँधी
की तुझ संग बाँधी
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी

की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
रे रे रे
की तुझ संग बाँधी

See also  GYPSY Balam Thanedar Song

की तुझ संग बाँधी

की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बाँधी

ये मन की डोरी

की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी
रे रे रे
की तुझ संग बाँधी
ये मन की डोरी

Mann Ki Dori

Read More Gunjan Saxena lyrics