Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam Lyrics

Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam Lyrics

🎧 Song Credits

Movie: Shaheed (1965)
Singers: Mohammed Rafi
Song Lyricists: Prem Dhawan
Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam Lyrics

🎧 Lyrics

Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam Lyrics

जलते भी गए, कहते भी गए,
आज़ादी के परवाने
जीना तो उसी का जीना है,
जो मरना वतन पे जाने

ऐ वतन, ऐ वतन,
हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ
तक लुटा जायेंगे,
फूल क्या चीज़ है
तेरे क़दमों पे हम,
भेंट अपने सरों की
चढ़ा जायेंगे.

ऐ वतन, ऐ वतन,
हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक
लुटा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन….

कोई पंजाब से, कोई महाराष्ट्र से,
कोई यूपी से है, कोई बंगाल से,

कोई पंजाब से, कोई महाराष्ट्र से,
कोई यूपी से है, कोई बंगाल से,

तेरी पूजा की थाली में लायें हैं हम,
तेरी पूजा की थाली में लायें हैं हम,
फूल हर रंग के, आज हर डाल से,
फूल हर रंग के, आज हर डाल से,

नाम कुछ भी सही, पर लगन एक है,
जोत से जोत दिल की जगा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन……

तेरी जानिब उठी जो कहर की नज़र,
उस नज़र को झुका के ही दम लेंगे हम,
तेरी जानिब उठी जो कहर की नज़र,
उस नज़र को झुका के ही दम लेंगे हम,

तेरी धरती पे है जो, क़दम गैर का,
उस क़दम का निशां तक मिटा देंगे हम,
उस क़दम का निशां तक मिटा देंगे हम,

जो भी दीवार आएगी अब सामने,
ठोकरों से उसे हम गिरा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन…..

सह चुके हैं सितम हम बहुत गैर के,
अब करेंगे हर एक वार का सामना,
सह चुके हैं सितम हम बहुत गैर के,
अब करेंगे हर एक वार का सामना,

झुक सकेगा ना अब सरफरोशों का सर,
चाहे हो खूनी तलवार का सामना,
चाहे हो खूनी तलवार का सामना,

सर पे बांधे कफ़न, हम तो हँसते हुए,
मौत को भी गले से लगा जायेंगे,
ऐ वतन ऐ वतन

जब शहीदों की अर्थी उठे धूम से,
देशवालो तुम आंसू बहाना नहीं,
पर मनाओ जब आज़ाद भारत का दिन,
उस घड़ी तुम हमें भूल जाना नहीं,

लौट कर आ सकें ना जहाँ में तो क्या,
याद बनके दिलों में तो आ जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक लुटा जायेंगे,
ऐ वतन, ऐ वतन……

ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक लुटा जायेंगे,
फूल क्या चीज़ है तेरे क़दमों पे हम,
भेंट अपने सरों की चढ़ा जायेंगे.

ऐ वतन, ऐ वतन, हमको तेरी क़सम,
तेरी राहों में जाँ तक लुटा जायेंगे,

इन्कलाब जिंदाबाद…..
इन्कलाब जिंदाबाद…..
इन्कलाब जिंदाबाद…..

इन्कलाब जिंदाबाद…..
इन्कलाब जिंदाबाद…..
इन्कलाब जिंदाबाद…..

Ae Watan Ae Watan Humko Teri Kasam Lyrics

 

Read More

 

Leave a Comment